Live TV
GO
Hindi News भारत राजनीति धर्मग्रंथों में लिखा है कि राम...

धर्मग्रंथों में लिखा है कि राम पूरी दुनिया के भगवान हैं, सिर्फ हिंदुओं के नहीं: फारूक अब्दुल्ला

अब्दुल्ला ने कहा कि भारत हर भारतीय के लिए है और सभी धर्मों के लोग भाई-भाई हैं।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 14 Feb 2019, 6:47:52 IST

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के द्वारा बुधवार को दिल्ली में आयोजित महारैली में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने दक्षिणपंथ पर जमकर निशाना साधा। भारत में धार्मिक आधार पर ‘विभाजन’ का जिक्र करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री अब्दुल्ला ने पूछा कि क्या भगवान राम केवल हिन्दुओं के भगवान हैं और इस बात पर बल दिया कि सभी धर्म के लोगों को देश में सम्मान के साथ जीने का समान अधिकार है। अब्दुल्ला ने कहा कि भारत हर भारतीय के लिए है और सभी धर्मों के लोग भाई-भाई हैं।

विपक्ष की इस महारैली में अब्दुल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह को आगामी लोकसभा चुनाव में शिकस्त दी जानी चाहिए क्योंकि वे लोकतंत्र और संवैधानिक मूल्यों के लिए ‘खतरा’ हैं। उन्होंने कहा, ‘जब तक हमारे अपने दिल साफ नहीं होते हम उन्हें आसानी से नहीं हटा सकते। अगर मुल्क को बचाना चाहते है तो हमें पहले कुर्बानी देनी की जरूरत है, और ऐसा देश के लिए करो न कि कुर्सी के लिए।’ आपको बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पार्टी द्वारा आयोजित इस रैली में ममता बनर्जी, शरद पवार, चंद्रबाबू नायडू समेत तमाम विपक्षी नेता मौजूद थे।

अब्दुल्ला ने कहा, ‘आज हम धार्मिक आधार पर हिंदुओं और मुसलमानों के तौर पर बंटे हुए हैं। मैं हिन्दुओं से पूछना चाहता हूं कि क्या राम सिर्फ आपके राम हैं? यह पवित्र ग्रंथों में लिखा है कि राम पूरी दुनिया के भगवान हैं। वह सब के भगवान हैं। हमें अपनी लड़ाई भूलने की जरूरत है।’ उन्होंने अफसोस जताया कि मुस्लिम समुदाय के लोगों को बताया जा रहा है कि क्या नहीं करना है या कहां नहीं जाना है और पूछा कि ‘क्या यह देश उनके आकाओं का देश है।’ उन्होंने कहा कि इस देश में सभी धर्म के लोगों को जीने का समान अधिकार है। हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई -हम सभी भाई हैं। और भारत हर भारतीय के लिए है।’ (भाषा)

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From Politics