Live TV
GO
Hindi News भारत राजनीति सरकार मंदिर बनाने की तारीख बताए,...

सरकार मंदिर बनाने की तारीख बताए, बाकी बातें बाद में होती रहेंगी: उद्धव ठाकरे

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर निर्माण को लेकर आज कहा कि वह यहां कोई राजनीति करने नहीं आये हैं लेकिन सरकार मंदिर बनाने की तारीख बताये।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 24 Nov 2018, 23:46:15 IST

अयोध्या (उप्र): शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर निर्माण को लेकर आज कहा कि वह यहां कोई राजनीति करने नहीं आये हैं लेकिन सरकार मंदिर बनाने की तारीख बताये। ठाकरे ने यहां एकत्र शिवसेना समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा, ''मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं । मैं सोये हुए कुंभकर्ण को जगाने आया हूं।'' 

उन्होंने कहा कि दिन, महीने, साल और पीढियां निकल गयीं। साथ ही कटाक्ष किया, ''मंदिर वहीं बनाएंगे लेकिन तारीख नहीं बताएंगे। पहले बताओ कि मंदिर कब बनाओगे। मुझे मंदिर निर्माण की तारीख चाहिए। बाकी बातें बाद में होती रहेंगी।'' ठाकरे ने कहा कि वह श्री राम चंद्र का दर्शन करने आये हैं। राम लला और हिन्दुत्व को वे कभी नहीं भूल सकते। 

उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी जब प्रधानमंत्री थे, तब मिली जुली सरकार थी। उस समय यह कार्य कठिन हो सकता था। लेकिन आज की सरकार ताकतवर सरकार है। ''केन्द्र में भी और उत्तर प्रदेश में भी ... अध्यादेश लाना चाहते हैं लाइये, कानून बनाना चाहते हैं, कानून बनाइये। शिवसेना उसका पूरा समर्थन करेगी।'' 

उन्होंने कहा कि किये हुए वायदे निभाना, वचन देकर पूरा करना ही हमारा हिन्दुत्व है। सब मिलकर मंदिर बनाएंगे तो निर्माण कार्य जल्द पूरा होगा। हर हिन्दू चाहता है कि श्रीराम जन्मभूमि में श्रीराम का मंदिर होना ही चाहिए। ठाकरे ने कहा कि उन्हें मंदिर निर्माण का श्रेय नहीं चाहिए। अगर कोई श्रेय लेना चाहे तो ले लेकिन यह बताए कि हम कितने साल इंतजार करें। उन्होंने कहा कि राम मंदिर श्रद्धा का मामला है। सरकार को राम मंदिर के लिए अदालत के फैसले से पहले कानून लाना चाहिए। 

ठाकरे ने कहा, ''मैं भूलने वालों को याद दिलाने आया हूं कि जल्द मंदिर बनाइये ... सीने में दम होना चाहिए, हृदय होना चाहिए। देश और विश्व के हिन्दू कंधे से कंधा मिलाकर मंदिर निर्माण में सहभागी होना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि अटल जी ने कहा था कि अब हिन्दू मात नहीं खाएगा ,तो अब हिन्दू चुप नहीं बैठेगा। 

शिवसेना प्रमुख ने उपस्थित जनसमूह से नारा लगवाया, ''हर हिन्दू की यही पुकार, पहले मंदिर फिर सरकार।'' इससे पहले उद्धव ठाकरे 'जय श्रीराम' के नारों के बीच दोपहर यहां परिवार सहित पहुंचे । वह धार्मिक नगरी में दो दिन प्रवास करेंगे। शिवसेना प्रमुख पत्नी रश्मि एवं पुत्र आदित्य के साथ शाम को सरयू तट पर आरती में शामिल होंगे। 

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए जल्द अध्यादेश लाने की मांग को मजबूती से उठा रही शिवसेना ने महाराष्ट्र से दो ट्रेनों के जरिए लगभग 3000 समर्थक यहां भेजे। पार्टी सूत्रों ने बताया कि अयोध्या पहुंचे शिवसैनिकों ने सरयू नदी में स्नान किया और उसके बाद राम लला एवं हनुमान गढी में पूजा अर्चना की । 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From Politics