Live TV
GO
Hindi News भारत राजनीति दिल्ली थप्पड़कांड: दिल्ली पुलिस का खुलासा,...

दिल्ली थप्पड़कांड: दिल्ली पुलिस का खुलासा, सीएम हाउस के कैमरों का वक्त बदला गया

मुख्य सचिव से मारपीट केस में आज दिल्ली पुलिस ने सीएम हाउस में जांच की और केजरीवाल के घर में लगे 21 कैमरों के वीडियो पुलिस अपने साथ ले गई है। पुलिस ने सीएम हाउस में जांच के बाद कहा कि कैमरों की रिकॉर्डिंग लगभग 43 मिनट पीछे की गई थी।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 23 Feb 2018, 13:55:45 IST

नई दिल्ली: मुख्य सचिव से मारपीट केस में आज दिल्ली पुलिस ने सीएम हाउस में जांच की और केजरीवाल के घर में लगे 21 कैमरों के वीडियो पुलिस अपने साथ ले गई है। पुलिस ने सीएम हाउस में जांच के बाद कहा कि कैमरों की रिकॉर्डिंग लगभग 43 मिनट पीछे की गई थी। इसी बीच मीडिया से बात करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि अच्छी बात हो रही है कि जांच हो रही है लेकिन इसी तरह से जस्टिस लोया समेत बाकी सारे मामले की भी जांच होनी चाहिए। बता दें कि मुख्य सचिव से मारपीट के सबूत जुटाने के लिए पुलिस सीएम के घर पहुंची। केजरीवाल के घर में ही मुख्य सचिव से मारपीट हुई थी। पुलिस का मकसद सीएम हाउस में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज हासिल करना और उस कमरे का निरीक्षण करना था जहां पर यह घटना हुई थी। नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट के अडिशनल डीसीपी हरेंद्र कुमार सिंह के नेतृत्व में पुलिस दल सीएम हाउस पहुंची थी। पुलिस टीम के साथ फरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी मौजूद थे।

दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ मारपीट मामले में केजरीवाल की पार्टी के विधायकों की मुश्किलें उस वकित बढ़ गईं जब इस मामले में केजरीवाल के सबसे करीबी वीके जैन ने जज के सामने गवाही दी है कि उस रात सीएम के सामने विधायकों ने मुख्य सचिव के साथ मारपीट की थी। दिल्ली के सीएम के सबसे करीबी नौकरशाह की इस गवाही ने आम आदमी पार्टी के दो विधायकों के साथ साथ केजरीवाल की भी नींद उड़ा दी है। वी के जैन ने अपने बयान में बताया कि उस रात सीएम हाउस में कौन-कौन था, किस बात पर बहस हुई और किस-किस ने चीफ सेक्रेटरी पर हाथ उठाया।

वीके जैन ने कोर्ट को बताया कि, “सीएम साहब ने रात 11 बजकर 25 मिनट पर पूछा कि क्या मुख्य सचिव साहब आ रहे हैं, या नहीं। मैं रात 11 बजकर 30 मिनट अपने घर से निकला और मुख्य सचिव साहब को फोन किया। मैंने सीएम साहब को कन्फर्म किया कि मुख्य सचिव आ रहे हैं। मैं रात बारह बजे मुख्यमंत्री आवास पहुंचा और मुख्य सचिव 12 बजकर 5 मिनट पर सीएम आवास पहुंचे। मैं मुख्य सचिव को मीटिंग रुम में बिठाकर वॉशरुम चला गया था। जब मैं वापस आया, तो देखा कि दोनों आरोपी विधायक मुख्य सचिव साहब को मार रहे हैं। मुख्य सचिव साहब का चश्मा नीचे गिर गया फिर वो मीटिंग रुम से बाहर चले गए। मैं मुख्य सचिव को रोकने के लिए उनके पीछे गया लेकिन वो नहीं रुके। फिर मैं अपने घर चला गया।

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From Politics