Live TV
  1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ...

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ 10 सितंबर को कांग्रेस का ‘भारत बंद’

कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए आगामी 10 सितंबर को 'भारत बंद' आहूत किया है।

IndiaTV Hindi Desk
Edited by: IndiaTV Hindi Desk 06 Sep 2018, 23:03:54 IST

नयी दिल्ली: कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए आगामी 10 सितंबर को 'भारत बंद' आहूत किया है। पार्टी का कहना है कि उसने अन्य विपक्षी पार्टियों से बात की है और ज्यादातर ने इसमें साथ देने का वादा किया है। कांग्रेस ने सामाजिक संगठनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे 'भारत बंद' का समर्थन करें। 

कांग्रेस का कहना है कि ‘सोती हुई सरकार को जगाने के लिए’ उसकी ओर से आहूत 'भारत बंद' सुबह नौ बजे से दिन में तीन बजे तक होगा ताकि आम जनता को दिक्कत नहीं हो। पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने संवाददाताओं से कहा, ''आज देश का कोई वर्ग खुश नहीं है। मंहगाई की मार ने सभी की कमर तोड़ दी है। पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम से सब परेशान हैं। हिंसा का माहौल भी है। हर कोई परेशान है।'' 

उन्होंने कहा, ''आज की बैठक में यह तय किया कि 10 सितंबर को भारत बंद होगा। यह सुबह नौ बजे से दिन में तीन बजे तक होगा ताकि जनता को दिक्कत नहीं हो। इसमें दूसरे विपक्षी दल भी साथ होंगे। सरकार सो रही है। उसे हम जगाएंगे।'' कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार वर्षों में पेट्रोल-डीजल पर कर के जरिए 11 लाख रुपये की ''लूट'' की है। 

उन्होंने कहा कि 'भारत बंद' का आह्वान किया गया है ताकि सरकार पर पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने और इन दोनों पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए दबाव बनाया जा सके। सुरजेवाला ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं, ''अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे और अशोक गहलोत ने विपक्षी पार्टियों से बात की है। सभी ने इसके समर्थन की बात की है।'' 

पार्टी के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल ने कहा, ''ज्यादातर विपक्षी पार्टियों से हमारी बात हुई है। ज्यादातर ने समर्थन किया है। तृणमूल कांग्रेस ने समर्थन की बात की है, लेकिन वह बंद में शामिल नहीं होगी। बसपा से अभी बात नहीं हुई है।'' सुरजेवाला ने कहा, ''मोदी सरकार ने साढ़े चार साल में पेट्रोल-डीजल पर कर लगाकर 11 लाख करोड़ रुपये कमाया। आम लोगों की जेब पर डाका डालकर जो पैसे निकाले गए वो किसके जेब में गए, मोदी जी बता नहीं रहे हैं।" 

उन्होंने कहा, '' मई, 2014 से पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 210 फीसदी की बढ़ोतरी की। डीजल पर उत्पाद शुल्क 444 फीसदी बढ़ाया जा चुका है। मोदी सरकार ने पेट्रोल के दाम में लगातार बढ़ोतरी की है। गैस सिलेंडर को दोगुना कर दिया गया। सुरजेवाला ने कहा, ''कल जेटली जी ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमत करने के लिए जादू की छड़ी नहीं है। इस सरकार ने जनता को राहत देने की बजाय अपने हाथ खड़े कर दिए हैं। 

सूत्रों का कहना है कि तृणमूल कांग्रेस ने ‘भारत बंद’ में भाग लेने से मना किया क्योंकि पश्चिम बंगाल में उसकी सरकार है और वह राज्य में जन-जीवन कानून ठप कराने के पक्ष में नहीं है। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार ‘भारत बंद‘ में उसे सपा, राकांपा, रालोद और कुछ अन्य दलों का समर्थन मिला है और बसपा एवं कुछ छोटे दलों से कल या परसों तक बात कर ली जाएगी। 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का भारत सेक्‍शन
Web Title: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ 10 सितंबर को कांग्रेस का ‘भारत बंद’: Cong to organise Bharat Bandh against fuel prices on Sep 10