Live TV
GO
Hindi News भारत राजनीति किसानों की खुशहाली से भारत महाशक्ति...

किसानों की खुशहाली से भारत महाशक्ति बनने की राह पर, खातों में 2000 रुपए पहुंचा देना अभूतपूर्व: अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सोमवार को कहा कि घोषणा के एक महीने के भीतर किसानों के खाते में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किश्त के रूप में दो हजार रुपए पहुंचा देना अभूतपूर्व है।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 25 Feb 2019, 19:15:16 IST

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सोमवार को कहा कि घोषणा के एक महीने के भीतर किसानों के खाते में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किश्त के रूप में दो हजार रुपए पहुंचा देना अभूतपूर्व है । भाजपा ने कहा कि गोरखपुर में किसान सम्मान निधि योजना का शुरुआत कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश-प्रदेश में विकास की एक नई राह खोल दी है। 

प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता चन्द्रमोहन ने कहा कि किसानों के खातों में सीधे पैसे आने से अब इन्हें खाद-बीज आदि की व्यवस्था करने के लिए उधार नहीं लेना पड़ेगा। वे अब अपनी कृषि जरूरतों का प्रबंध स्वयं कर सकेंगे। इससे किसान अपनी पूरी ऊर्जा खेती में लगा सकेंगे और कृषि के क्षेत्र में देश महाशाक्ति बनकर उभरेगा। 36 हजार करोड़ रुपए से 86 लाख लघु एवं सीमांत किसानों का ऋण मोचन किया गया है। 

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि गन्ना किसानों का 53 हजार करोड़ रुपए के गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया है। 93 लाख मीट्रिक टन गेहूं की सीधी खरीद कर किसानों को 15 हजार करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान किया जा चुका है। इसी तरह, 86 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद, गेहूं का एमएसपी 1840 रुपए प्रति क्विंटल करना, पहली बार दलहनी और तिलहनी फसलों की खरीद कर प्रदेश सरकार ने किसानों को एक बड़ी राहत दी है। उन्होंने कहा कि इससे न केवल किसानों का उनकी उपज का वाजिब मूल्य मिला है बल्कि किसानों की आय दोगुनी होने की दिशा में भी तेजी से कदम बढ़े हैं। प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार लगातार किसानों का जीवन स्तर सुधारने की दिशा में प्रयास कर रही है। खुशहाल किसान ही न्यू इंडिया की रीढ़ हैं। 

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From Politics