Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. पाकिस्तान से भारत आया था शाहरुख...

पाकिस्तान से भारत आया था शाहरुख खान का फैन, 6 महीने की जेल के बाद हुआ रिहा

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के स्वात जिले के मिंगोरा निवासी अब्दुल्ला को भारतीय अधिकारियों ने 28 मई 2017 को उस समय गिरफ्तार कर लिया था जब वह वाघा सीमा गेट पर हर शाम होने वाली ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह में शामिल होने आया था।

IndiaTV Hindi Desk
Edited by: IndiaTV Hindi Desk 29 Dec 2018, 16:00:54 IST

पेशावर: हिन्दी फिल्मों के कलाकार शाहरुख खान और काजोल से मिलने की ख्वाहिश लिए सीमा पार करने वाला 22 साल का पाकिस्तानी युवक 6 महीने भारतीय जेल में बिताकर स्वदेश लौट आया। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के स्वात जिले के मिंगोरा निवासी अब्दुल्ला को भारतीय अधिकारियों ने 28 मई 2017 को उस समय गिरफ्तार कर लिया था जब वह वाघा सीमा गेट पर हर शाम होने वाली ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह में शामिल होने आया था।

समारोह के बाद उसने ‘जीरो लाइन’ पार की और सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों को बताया कि वह शाहरुख और काजोल से मिलना चाहता है।

अधिकारियों ने कहा कि उसे नई दिल्ली के पाकिस्तानी उच्चायोग द्वारा जारी आपातकालीन यात्रा प्रमाणपत्र के आधार पर अटारी-वाघा सीमा के जरिए बुधवार को स्वदेश वापस भेजा गया। अपने घर पहुंचने पर उसके रिश्तेदारों, पड़ोसियों, मित्रों और शुभचिंतकों ने माला पहनाकर उसका स्वागत किया।

स्वात के स्थानीय मीडिया से बात करते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि वह शाहरुख और काजोल का बहुत बड़ा प्रशंसक है और उसने कलाकारों से मिलने के लिए सीमा पार की थी। उसने कहा, ‘‘भारत के सीमा सुरक्षा बल ने मुझे गिरफ्तार किया और एक थाने में स्थानान्तरित किया। इसके बाद मुझे केन्द्रीय कारागार अमृतसर भेजा गया।’’

उसने कहा, ‘‘मैंने जेल अधिकारियों के जरिये भारत सरकार को पत्र लिखकर शाहरुख और काजोल से मिलने का इंतजाम करने का अनुरोध किया लेकिन मेरे आग्रह पर कोई जवाब नहीं मिला।’’ हालांकि, अब्दुल्ला ने पाकिस्तानी नागरिकों से भारत में गैरकानूनी तरीकों से प्रवेश नहीं करने की अपील की।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: पाकिस्तान से भारत आया था शाहरुख खान का फैन, 6 महीने की जेल के बाद हुआ रिहा