Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय सबरीमला में हिंसक हुआ प्रदर्शन; केरल...

सबरीमला में हिंसक हुआ प्रदर्शन; केरल में 266 लोग गिरफ्तार, 334 लोग एहतियातन हिरासत में लिये गये

कई शहरों में राज्य परिवहन की बसें नहीं चल रही थीं वहीं कुछ प्राइवेट वाहन ही सड़क पर दिखाई दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हिंसा राजनीतिक रूप से फैलाई गई है। सरकार किसी भी रूप में हिंसा बर्दाश्त नहीं करेगी। 

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 04 Jan 2019, 7:29:32 IST

नई दिल्ली: सबरीमला मंदिर में रजस्वला उम्र की दो महिलाओं के प्रवेश करने के बाद पिछले दो दिनों में दक्षिणपंथी समूहों के हिंसक प्रदर्शनों के सिलसिले में अभी तक 266 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जानकारी के मुताबिक राज्य में 100 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं जिसमें 21 पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। पुलिस ने बताया कि 334 लोगों के एक समूह को एहतियातन हिरासत में लिया गया। उन्होंने बताया कि हिंदू संगठनों की हड़ताल के कारण राज्य में हुई व्यापक हिंसा के बाद पुलिस ने हिंसक प्रदर्शनों में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए विशेष अभियान ‘ऑपरेशन ब्रोकन विंडो’ चलाया।

कई शहरों में राज्य परिवहन की बसें नहीं चल रही थीं वहीं कुछ प्राइवेट वाहन ही सड़क पर दिखाई दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हिंसा राजनीतिक रूप से फैलाई गई है। सरकार किसी भी रूप में हिंसा बर्दाश्त नहीं करेगी। 

Related Stories

विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने विजयन को जवाब देते हुए कहा कि हिंसा तो होनी ही थी। उन्होंने कहा, 'जब असंवेदनशील लोग राज्य में शासन करते हैं तो यह काला दिन तो देखना ही था।' गुरुवार को राज्य में कांग्रेस ने काला दिवस मनाया। कई जगहों पर पत्रकारों पर भी हमले हुए। तिरुवनंतपुरम में पत्रकारों ने एक मार्च भी निकाला। राज्य पुलिस के प्रमुख ने कहा कि पत्रकारों पर हुए हमले की जांच की जाएगी।

पुलिस ने एक विज्ञप्ति में बताया कि विशेष शाखा हिंसा में शामिल लोगों की सूची तैयार करेगी और उसे आगे की कार्रवाई के लिए जिला पुलिस प्रमुखों को सौंपेगी। विज्ञप्ति में बताया गया है कि हिंसा के दोषियों की एक फोटो एलबम भी तैयार की जाएगी। हिंसा में शामिल आंदोलनकारियों को गिरफ्तार करने के लिए विशेष दल भी गठित किए जाएंगे।

इसमें कहा गया है कि संदिग्धों के मोबाइल फोन जब्त किए जाएंगे और उन्हें डिजिटल जांच के लिए भेजा जाएगा। उनके घरों पर हथियारों का पता लगाने के लिए छापे भी मारे जाएंगे। विज्ञप्ति के अनुसार सोशल मीडिया पर कथित घृणा अभियान में शामिल लोगों के खिलाफ मामले भी दर्ज किए जाएंगे।

राज्य में उस दिन से उग्र प्रदर्शन हो रहे हैं जब दो महिलाएं बिंदू और कनकदुर्गा ने बुधवार को तड़के सबरीमला मंदिर में भगवान अयप्पा के दर्शन किए। विभिन्न हिंदुत्व समर्थक समूहों के एक संगठन सबरीमला कर्म समिति और अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद द्वारा बुलाई हड़ताल बृहस्पतिवार को हिंसक प्रदर्शन में बदल गई।

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From National