Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय RSS विजयादशमी उत्‍सव Live : भागवत...

RSS विजयादशमी उत्‍सव Live : भागवत ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने की मांग की

नागपुर में आरएसएस के विजयादशमी उत्‍सव के दौरान अपने संबोधन में राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने पाकिस्‍तान को आड़े हाथों लेते हुए मोदी सरकार को आगाह किया।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 18 Oct 2018, 13:16:21 IST

नागपुर में आरएसएस के विजयादशमी उत्‍सव के दौरान अपने संबोधन में राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने पाकिस्‍तान को आड़े हाथों लेते हुए मोदी सरकार को आगाह किया। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान में सिर्फ सत्‍ता बदली है, लेकिन पाकिस्‍तान की नियत वहीं पुरानी है। पाकिस्‍तान के सहारे चीन भारत को घेरने की साजिश रच रहा है। मोहन भागवत ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए अलग से कानून बनाने की मांग रखी है 

आरएसएस के विजयादशमी उत्‍सव के मौके पर नोबेल पुरस्कार से सम्मानित और सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश सत्यार्थी समारोह में मुख्य अतिथि हैं। आज सुबह इस अवसर पर आज सुबह नागपुर के आरएसएस मुख्‍यालय पर पथ संचलन आयोजित किया गया। इस मौके पर देश भर से आए स्‍वयंसेवक बड़ी संख्‍या में उपस्थित हैं। कार्यक्रम में आरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत के साथ ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी इस आयोजन के दौरान उपस्थित हैं।  

मोहन भागवत का भाषण 

भागवत ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने की मांग की

भारत की विदेश नीति हमेशा शांति, सहिष्णुता और सरकारों से निरपेक्ष मित्रवत संबंधों की रही है : भागवत।

सशस्त्र बलों को सशक्त बनाने और पड़ोसियों के साथ शांति स्थापित करने के बीच संतुलन बनाए रखने की आवश्यकता है

पाकिस्‍तान में सिर्फ सत्‍ता बदली है, लेकिन पाकिस्‍तान की नियत वहीं पुरानी है।

 पाकिस्‍तान के सहारे चीन भारत को घेरने की साजिश रच रहा है। 

हमें उतना ताकतवर बनना होगा कि हमसे लड़ने की कोई जुर्रत न कर सके। 

रक्षा उत्पादन में पूर्ण-आत्मनिर्भरता के बगैर भारत अपनी सुरक्षा को लेकर आश्वस्त नहीं हो सकता : भागवत 

समाज में ‘शहरी माओवाद’ और ‘नव-वामपंथी’ तत्वों की गतिविधियों से सावधान रहें : भागवत

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन