Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय डॉ. पायल सुसाइड केस में पुलिस...

डॉ. पायल सुसाइड केस में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, तीन महिला डॉक्टर गिरफ्तार

परिजनों का आरोप है कि आरोपी डॉक्टर्स उनकी बेटी का मानसिक उत्पीड़न के साथ ही जातीय टिप्पणी भी करते थे। सीनियर्स के इस व्यवहार से पायल बेहद परेशान रहती थी और इसी वजह से उसने ये कदम उठाया।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 29 May 2019, 9:26:00 IST

नई दिल्ली: मुंबई के नायर अस्पताल की डॉक्टर पायल के आत्महत्या मामले में पुलिस ने अस्पताल की तीन महिला डॉक्टरों को गिरफ्तार किया है। मुंबई की अग्रीपाड़ा पुलिस ने डॉक्टर भक्ति के बाद डॉक्टर अंकिता को भी गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले डॉक्टर हेमा आहूजा को अंधेरी स्टेशन परिसर से गिरफ्तार किया गया था। इन तीनों पर डॉक्टर पायल के साथ रैगिंग कर खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप हैं।

जानकारी के मुताबिक आदिवासी समाज से आने के कारण तीनों सीनियर डॉक्टर पायल की रैगिंग करती थीं। इस रैंगिंग से तंग आकर डॉक्टर पायल ने सुसाइड कर लिया था। गिरफ्तारी के बाद से पुलिस डॉक्टर भक्ति, अंकिता और हेमा आहूजा से पूछताछ कर रही है। आज तीनों को मुंबई के सेशन कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Related Stories

बता दें कि छात्रा के माता-पिता की शिकायत पर मुंबई पुलिस ने तीन सीनियर डॉक्‍टर्स के खिलाफ मामला दर्ज किया था। परिजनों का आरोप है कि आरोपी डॉक्‍टर्स उनकी बेटी का मानसिक उत्‍पीड़न के साथ ही जातीय टिप्‍पणी भी करते थे। सीनियर्स के इस व्‍यवहार से पायल बेहद परेशान रहती थी और इसी वजह से उसने ये कदम उठाया।

मामले में स्त्री रोग विभाग के प्रमुख को अगली सूचना तक निलंबित कर दिया गया है। बताया जाता है कि छात्रा के परिजनों ने अस्‍पताल के डीन, पुलिस और यहां तक की राज्‍यमंत्री से भी इस बाबत गुहार लगाई थी। इन्‍हें लिखित में शिकायत दी गई थी, लेकिन किसी ने रैगिंग रोकने को लेकर कदम नहीं उठाया। इसके बाद ही डॉक्‍टर पायल तड़वी ने खुदकुशी कर ली थी।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

More From National