Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. शब-ए-बरात मुबारक रात, स्टंटबाजी अल्लाह...

शब-ए-बरात मुबारक रात, स्टंटबाजी अल्लाह को पसंद नहीं: मौलाना मुफ्ती मुकर्रम

फतेहपुरी मजिस्द के इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम ने कहा, ‘‘अल्लाह ने कुछ मुबारक रातें बनाई हैं जिनमें कुछ देर भी इबादत करने से ज्यादा सबाब (पुण्य) मिलता है। शब-ए-बरात में सूरज डूबते ही अल्लाह कबूलियत के दरवाजे खोल देता है और दुआएं तथा तौबाएं कबूल होती हैं...

Bhasha
Reported by: Bhasha 29 Apr 2018, 13:26:34 IST

नई दिल्ली: शब-ए-बरात की रात को सड़कों पर अक्सर होने वाली स्टंटबाजी और हुड़दंग से चिंतित मुस्लिम समुदाय के रहबरों ने लोगों से अपील की है कि वे अपने बच्चों को घरों में रहकर ही इबादत करने की हिदायत दें और उन पर नजर रखें। उधर दिल्ली पुलिस ने भी स्टंटबाजी को रोकने के लिए तैयारी कर ली है। इस दफा एक मई की रात को मुस्लिम समुदाय के लोग रातभर जागकर इबादत करेंगे। शब-ए-बरात पर सड़कों पर होने वाली स्टंटबाजी में पिछले कुछ सालों में कमी जरूर आई है लेकिन अब भी कुछ लोग हुडदंग और स्टंटबाजी करते हैं।

फतेहपुरी मजिस्द के इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम ने कहा, ‘‘अल्लाह ने कुछ मुबारक रातें बनाई हैं जिनमें कुछ देर भी इबादत करने से ज्यादा सबाब (पुण्य) मिलता है। शब-ए-बरात में सूरज डूबते ही अल्लाह कबूलियत के दरवाजे खोल देता है और दुआएं तथा तौबाएं कबूल होती हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लोगों को इस रात में घरों में रह कर इबादत करनी चाहिए और वक्त जाया नहीं करना चाहिए, लेकिन कुछ नौजवान बाइक से स्टंटबाजी जैसी हुड़दंग करते हैं जो अल्लाह को बिल्कुल पसंद नहीं है।’’

मौलाना मुकर्रम ने कहा, ‘‘मां-बाप का फर्ज है कि वे ऐसे नौजवानों को घरों में ही रोकें और उनसे घरों में ही इबादत कराएं। मां बाप उन पर नजर रखें। उन्हें गाड़ियों की चाबी न दें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे स्टंटबाजी करने वाले लोग कानून का उल्लंघन करते हैं जिन पर पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए। जब ऐसे लोग कानूनी कार्रवाई की जद में आएंगे तो उन्हें सालों तक अदालत के चक्कर लगाने होंगे। इसलिए मां-बाप को अपने बच्चों पर ध्यान देना चाहिए और ऐसी बुराइयों में शामिल होने से रोकना चाहिए।’’

सामाजिक कार्यकर्ता डॉ फहीम बेग ने कहा, ‘‘मस्जिदों के जरिए मां-बाप और बच्चों को समझाया गया है कि शब-ए-बरात पर स्टंटबाजी करने का मजहब से कोई लेना देना नहीं है, यह उनका मनचलापन है। उन्हें स्टंटबाजी नहीं करनी चाहिए। अव्वल तो उन्हें घरों में से ही नहीं निकलना चाहिए। उन्हें घरों में रहकर इबादत करनी चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस्लाम कहता है कि कानून का पालन करना सर्वोपरि है और जो इसका उल्लंघन करता है उसपर कार्रवाई होनी चाहिए।''

डॉ बेग ने कहा कि हमारे स्वयंसेवी रात में व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस के साथ सड़कों पर होंगे और कानून तथा नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई करने में उनकी मदद करेंगे। हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई एकता कमेटी के अध्यक्ष परवेज मियां ने कहा, ‘‘पिछले कुछ सालों में सड़कों पर स्टंटबाजी की घटनाओं में कमी आई है। हम लोगों ने मस्जिदों के जरिए और पर्चे छपवाकर लोगों को जागरूक किया है कि वे अपने बच्चों को घरों में रोकें। पुलिस के साथ भी हमारी बैठक हुई है। हमारे स्वयंसेवक रात में पुलिस की मदद करेंगे।’’

उधर दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मधुर वर्मा ने कहा कि शब-ए-बरात पर स्टंटबाजी रोकने के लिए व्यापक इंतजाम किए गए हैं। रात 10 बजे से इंडिया गेट जाने वाले रास्तों पर स्टंटबाजी करने वालों पर नजर रखी जाएगी। जो पकड़े जाएंगे उन पर सख्त कानून कार्रवाई की जाएगी। यातायात पुलिस के साथ मिलकर नजर रखी जाएगी।
उन्होंने कहा कि इसके अलावा रिजर्व पुलिस बल का भी इस्तेमाल किया जाएगा। वर्मा ने पुष्टि की कि शब-ए-बरात की रात को कुछ संगठनों के स्वयंसेवी पुलिस के साथ व्यवस्था बनाए रखने में उनकी मदद करेंगे।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: शब-ए-बरात मुबारक रात, स्टंटबाजी अल्लाह को पसंद नहीं: मौलाना मुफ्ती मुकर्रम