Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय लोकप्रिय सर्च इंजन UC ब्राउजर पर...

लोकप्रिय सर्च इंजन UC ब्राउजर पर डाटा लीकेज का शक, रोक लगा सकती है सरकार

भारतीय उपयोक्ताओं के मोबाइल डेटा को कथित तौर पर लीक करने के मामले में सरकार यूसी ब्राउजर की जांच कर रही है। वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार इस मामले में दोषी पाये जाने पर यूसी ब्राउजर को प्रतिबंधित किया जा सकता है

India TV News Desk
India TV News Desk 22 Aug 2017, 23:58:45 IST

नई दिल्ली: भारतीय उपयोक्ताओं के मोबाइल डेटा को कथित तौर पर लीक करने के मामले में सरकार यूसी ब्राउजर की जांच कर रही है। वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार इस मामले में दोषी पाये जाने पर यूसी ब्राउजर को प्रतिबंधित किया जा सकता है।

यूसी ब्राउजर चीन की चर्चित कंपनी अलीबाबा का ब्राउजर है जो कि इंटरनेट इस्तेमाल के काम आता है। इस ब्राउजर पर भारतीय उपयोक्ताओं से जुड़ी जानकारी लीक करने का आरोप है।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय में एक वरिष्ठ अधिकारी ने उक्त जानकारी दी। अधिकारी ने कहा, यूसी ब्राउजर के खिलाफ शिकायतें हैं कि यह अपने भारतीय उपयोक्ताओं का मोबाइल डेटा चीन स्थित सर्वर को भेजता है। ऐसी भी शिकायते हैं कि अगर उपयोक्ता इस ब्राउजर को अनइंस्टाल कर देता है या ब्राउजिंग डेटा मिटा भी देता है तो भी उपयोक्ता के डिवाइस के डीएनएस पर इसका नियंत्रण रहता है।

अधिकारी ने कहा कि अगर इस ब्राउजर पर लगे आरोपों की पुष्टि हो जाती है तो देश में इसे प्रतिबंधित किया जा सकता है। यूसी ब्राउजर का परिचालन करने वाली कंपनी यूसी वेब को इस बारे में भेजे गए ईमेल का कोई जवाब नहीं मिला।

यूसी ब्राउजर अलीबाबा के मोबाइल कारोबार समूह का हिस्सा है। अलीबाबा ने भारत में पेटीएम व इसकी पैतृक कंपन वन97 में काफी बड़ा निवेश किया है। इसके अलावा उसने स्नैपडील में भी बड़ा पैसा लगाया है।

यूसी ब्राउजर ने पिछले साल दावा किया था कि भारत व इंडोनेशिया में उसके 10 करोड़ से अधिक मासिक सक्रिय उपयोक्ता हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में गूगल के क्रोम के बाद यूसी ब्राउजर दूसरा सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला ब्राउजर है।

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन