Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय नहीं टला है खतरा, कई राज्यों...

नहीं टला है खतरा, कई राज्यों में तूफान के साथ तेज़ बारिश की संभावना, मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक़ अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में दबाव के चलते मॉनसून भी तेज़ गति से उत्तर भारत के कई इलाक़ों की ओर बढ़ रहा है। यानी तूफान तो आएगा ही लेकिन साथ ही तेज़ बारिश भी होगी जिससे लोगों की मुसीबत डबल हो जाएगी।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 30 May 2018, 7:16:59 IST

नई दिल्ली: पिछले कुछ घंटों में आंधी-तूफान ने कई राज्यों में भारी तबाही मचाई है लेकिन परेशानी की बात ये है कि अभी भी तूफान का ख़तरा ख़त्म नहीं हुआ है। मौसम विभाग ने फिर अलर्ट जारी किया है जिसके मुताबिक़ देश के कई राज्यों में तूफान के साथ-साथ तेज़ बारिश भी लोगों के लिए मुसीबत बन सकती है। ऐसे में अगले 24 से 48 घंटे सावधान रहने की सख्त जरुरत है। अलर्ट के इस दायरे में पूर्व से पश्चिम और उत्तर से दक्षिण तक के राज्य शामिल हैं। मई के महीने में मौत बांट रहा ये बवंडर आधे हिंदुस्तान के लिए दहशत का दूसरा नाम बन गया है।

कहीं घर और दीवार गिरने से लोग बेमौत मारे गए हैं तो कहीं तूफानी हवाओं की ताकत से पेड़ उखड़ गए लेकिन मौत का ये तूफान अभी ख़त्म नहीं हुआ है। अगले 24 से 48 घंटे तक खतरा बरकरार है और इस बार मौसम राहत और आफत दोनों की शक़्ल में घातक साबित होगा। जी हां, मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है यानी मौसम को लेकर एक बड़ी चेतावनी। क़रीब 40 घंटे पहले कई राज्यों में आंधी-तूफान ने जो तबाही मचाई, वो ट्रेलर था क्योंकि अब मौसम विभाग ने 2 दिनों के लिए इससे कहीं बड़ी चेतावनी जारी की है।

मौसम विभाग के चेतावनी के मुताबिक कर्नाटक, केरल, लक्षद्वीप, अंडमान-निकोबार, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भारी बारिश की आशंका है। वहीं उत्तर प्रदेश, झारखंड और पश्चिम बंगाल में आंधी-तूफान और गरज के साथ बारिश हो सकती है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, बिहार, में धूल भरी आंधी और गरज के साथ बारिश का अनुमान है। कर्नाटक, दक्षिण महाराष्ट्र, गोवा, ओडिशा और लक्षद्वीप में तूफान का भी खतरा है।

मौसम विभाग के मुताबिक़ अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में दबाव के चलते मॉनसून भी तेज़ गति से उत्तर भारत के कई इलाक़ों की ओर बढ़ रहा है। यानी तूफान तो आएगा ही लेकिन साथ ही तेज़ बारिश भी होगी जिससे लोगों की मुसीबत डबल हो जाएगी। ख़तरे की ज़द में उत्तर भारत के कई राज्य होंगे, जहां बारिश और तूफान की जुगलबंदी तबाही मचा सकती है। अच्छी स्ट्रेंथ के साथ आ रहा यही मॉनसून तूफान के साथ मिलकर लोगों के लिए मुश्किल बन सकता है। खतरा ज्यादा है तो अलर्ट बंगाल से ओडिशा तक है। मछुआरों को समंदर में न जाने की सलाह दी गई है।

एक बार फिर सबसे ज़्यादा ख़तरा होगा उत्तर प्रदेश पर जहां मई में आए तूफान ने सबसे ज़्यादा लोगों को मौत की नींद सुलाया है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में बलिया, देवरिया, गोरखपुर, कुशीनगर, महाराजगंज, बलरामपुर और बिजनौर जिलों में धूल भरी आंधी और भयंकर तूफान का अलर्ट जारी किया है। ये ख़तरा 1 और 2 जून को भी बना रहेगा। इस अलर्ट के बाद यूपी में प्रशासन मुस्तैद है। हर मुश्किल से निपटने की तैयारी की जा चुकी है। यूपी के अलावा ख़तरा राजस्थान, बिहार, झारखंड और बंगाल पर भी है जिनके लिए अगले 24 से 48 घंटे मुसीबत भरे हो सकते हैं। आने वाली तबाही से सावधान रहने का अलर्ट मिल चुका है। ऑरेंज अलर्ट यानी कहीं तूफानी हवाएं, कहीं मूसलाधार बारिश तो कहीं जानलेवा गर्मी कहर बरपाएगी। ऐसे में ज़रूरत है सावधान रहने की।

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन