Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के...

जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कई हिस्सों में भारी बर्फबारी, अंधेरे में डूबी घाटी

जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कई हिस्सों में शनिवार को भारी बारिश और बर्फबारी हुई, जिसके कारण इन पहाड़ी राज्यों में पारा काफी नीचे चला गया।

IndiaTV Hindi Desk
Edited by: IndiaTV Hindi Desk 04 Nov 2018, 14:10:45 IST

श्रीनगर/शिमला/देहरादून: जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कई हिस्सों में शनिवार को भारी बारिश और बर्फबारी हुई, जिसके कारण इन पहाड़ी राज्यों में पारा काफी नीचे चला गया। वहीं, कश्मीर घाटी बड़े पैमाने पर बिजली कटौती के चलते अंधेरे में डूबा रहा। प्रशासन ने शनिवार को हुई भारी बर्फबारी को ही इसकी वजह बताया है। साल 2009 के बाद घाटी में नवंबर में पहली बार बर्फबारी हुई है। भारी बर्फबारी के चलते कश्मीर घाटी का देश के बाकी हिस्सों से सड़क और वायुमार्ग संपर्क टूट गया है। जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में इस सर्दी के मौसम की पहली बर्फबारी शनिवार को दोपहर में हुई और शहर में कई इंच तक बर्फ जमा हो गई। वर्ष 2009 के बाद यह पहला मौका है जब नवंबर महीने में श्रीनगर शहर में बर्फबारी हुई है।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘पिछले दो दशकों में केवल चार बार ही नवंबर के महीने में श्रीनगर में बर्फबारी हुई है। इसके पहले 2004, 2008 और 2009 में नवंबर के महीने में श्रीनगर में बर्फबारी हुई थी।’ अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही घाटी के बड़े नगरों और जिला मुख्यालयों में भारी बर्फबारी की खबरें मिली हैं। कश्मीर के ऊंचाई वाले इलाकों में दूसरे दिन बर्फबारी जारी रही और कुछ स्थानों पर हिमस्खलन भी हुआ है। उन्होंने बताया कि बांदीपुरा जिले में गुरेज के कुछ इलाकों में हिमस्खलन हुआ है और वहां सड़कों से बर्फ हटाने के लिए मशीनों और लोगों को लगाया गया है।​

Whats appगुलमर्ग में बर्फबारी का मजा लेते सैलानी | PTI

यातायात विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि देश के बाकी हिस्सों से घाटी को जोड़ने वाले श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारी बर्फबारी के कारण वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है। अधिकारी ने बताया कि भारी बर्फबारी के चलते श्रीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से हवाई यातायात रोक दिया गया है और शाम की उड़ानों को रद्द कर दिया गया है। बर्फबारी से पूरी घाटी में ठंडी लहर चलने जैसी स्थिति बन गई है। घाटी में तापमान इस वर्ष इस समय के सामान्य से 10 डिग्री सेल्सियस कम हो गया। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया है। 

पिछले कुछ दिनों से मौसम की पहली भारी बर्फबारी के कारण मुगल रोड से लगते इलाके पीर की गली से 120 से अधिक लोगों को बचाया गया है जिनमें से अधिकांश ट्रक चालक हैं। राजौरी और जम्मू में पुंछ जिलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां से जोड़ने वाली पीर की गली में तीन फुट से अधिक बर्फ जमा हो गई है। हिमाचल प्रदेश के कई जगहों पर भारी बर्फबारी के चलते पारा काफी नीचे गिर गया। किन्नौर जिले के कल्पा में 16 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है जबकि राज्य की राजधानी शिमला समेत कई अन्य हिस्सों में भारी बारिश हुई। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में भी ताजा बर्फबारी हुई है। बद्रीनाथ, केदारनाथ, यमुनोत्री और गंगोत्री में बर्फबारी हुई जबकि मैदानी क्षेत्रों में बारिश हुई।

आम चुनाव से जुड़ी ताजा खबरों, लोकसभा चुनाव 2019 की खबरों, चुनावों से जुड़े लाइव अपडेट्स और चुनाव परिणामों के लिए https://hindi.indiatvnews.com/elections पर बने रहें। इसके साथ ही हमें फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करके या #ElectionsWithIndiaTV हैशटैग का इस्तेमाल करके 543 लोकसभा सीटें और विधानसभा चुनावों से जुड़े ताजा परिणाम पाएं। आप #ResultsWithRajatSharma हैशटैग का इस्तेमाल करके इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा के साथ 23 मई को चुनाव परिणामों की पल-पल की जानकारी हासिल कर सकते हैं।
Web Title: Heavy snowfall in Jammu and Kashmir, Himachal Pradesh and Uttarakhand

More From National