Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. ब्लड मून 2018: 27 जुलाई को...

ब्लड मून 2018: 27 जुलाई को लग रहा है 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, काउंटडाउन शुरू

इस सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 27-28 जुलाई को लगने जा रहा है। इस अनोखी घटना को लेकर सारी दुनिया के प्रकृतिप्रेमी उत्साहित हैं। कई लोगों ने ब्लड मून को देखने की तैयारी भी शुरू कर दी है।

IndiaTV Hindi Desk
Written by: IndiaTV Hindi Desk 27 Jul 2018, 11:15:47 IST
सदी का सबसे बड़ा चंद्रग्रहण लाइव अपडेट्स ऑनलाइन देखने के लिए यहाँ क्लिक करें - Click Here

चंद्रग्रहण 2018: इस सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 27-28 जुलाई को लगने जा रहा है। इस अनोखी घटना को लेकर सारी दुनिया के प्रकृतिप्रेमी उत्साहित हैं। कई लोगों ने ब्लड मून को देखने की तैयारी भी शुरू कर दी है। आपको बता दें कि यह चंद्रग्रहण 27 जुलाई को पड़ेगा। 6 घंटे 14 मिनट तक रहने वाले इस चंद्रग्रहण को भारत, दक्षिण अमेरिका, अफ्रीका, पश्चिम एशिया, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप में देखा जा सकेगा। चंद्रग्रहण के दौरान कुछ देर के लिए चंद्रमा पूरी तरह लाल हो जाता है, इसी दुर्लभ घटना को ब्लड मून कहा जाता है। खगोल वैज्ञानिकों का कहना है कि इस सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण 6 घंटे 14 मिनट का पड़ेगा। यह साल 2018 का दूसरा चंद्र ग्रहण है। इससे पहले 1 जनवरी को पड़ा था। जो कि 1 घंटा 43 मिनट का था।

ज्योतिषशास्त्रों के अनुसार माना जा रहा है कि ऐसा संयोग 104 साल बाद बना है।

1. चंद्रग्रहण क्या होता है?

चंद्रग्रहण के दौरान पृथ्वी, सूर्य और चन्द्रमा के बीच में आ जाती है जिसके चलते पृथ्वी की छाया चंद्रमा पर पड़ती है। इस तरह पृथ्वी की छाया से चंद्रमा पूरे या आंशिक तौर पर ढक जाता है। इस स्थिति में पृथ्वी सूर्य की किरणों के चंद्रमा तक पहुंचने से रोक देती है और दुनिया के उस हिस्से में चंद्र ग्रहण नजर आता है।

2. किन देशों में दिखेगा चंद्रग्रहण?

सदी का यह सबसे लंबा चंद्र ग्रहण भारत के सभी हिस्सों में दिखाई देगा। भारत के अलावा इस पूर्ण चंद्र ग्रहण का नजारा भारत समेत दुबई, अफ्रीका, दक्षिण एशिया, मिडिल ईस्ट, म्यांमार, भूटान, पाकिस्तान, अफगानिस्तान चीन, नेपाल, अंटाकर्टिका, ऑस्ट्रेलिया, एशिया में आप खुली आंखो से ही देख सकते है। चंद्रमा के उदय के बाद भारत के उत्तर-पूर्वी एवं पूर्वी हिस्से चंद्र ग्रहण का अनुभव कर पाएंगे।

यह भी पढ़ें

3. कब शुरू होगा चंद्र ग्रहण?

इस सदी के सबसे लंबे चंद्रग्रहण को 27-28 जुलाई की रात में देखा जा सकेगा। 27 जुलाई की रात 10 बजकर 44 मिनट से शुरू होकर चंद्र ग्रहण 28 जुलाई की सुबह के 4 बजकर 58 मिनट तक रहेगा। चंद्र ग्रहण बेशक से आधी रात को लगेगा, लेकिन सूतक काल की शुरुआत दोपहर 2.54 मिनट पर ही हो जाएगी। यह एक बेहद ही दुर्लभ घटना है और कई सालों में एक बार घटित होती है।

4. कितनी देर तक रहेगा चंद्रग्रहण?

सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण कुल मिलाकर 6 घंटे 14 मिनट का होगा। इसी दौरान ब्लड मून की दुर्लभ घटना भी होगी जिसका इंतजार दुनियाभर के लोग कर रहे हैं। इससे पहले इस साल जनवरी में लोगों को 'ब्लड मून', 'सुपर मून' और 'ब्लू मून' या 'सुपर ब्लू ब्लड मून' की दुर्लभ घटना देखने को मिली थी जो लगभग 45 मिनट की अवधि तक थी।

5. इस बार का चंद्रग्रहण इतना लंबा क्यों है?

27 जुलाई को चंद्रमा और धरती के बीच की दूरी सबसे ज्यादा होगी, और यह दिन संयोग से पूर्णिमा को पड़ रहा है यही वजह है कि इस बार का चंद्रग्रहण ज्यादा देर तक रहेगा।

6. क्यों खास है यह चंद्र ग्रहण?

27 जुलाई को गुरुपूर्णिमा भी है, इसलिए इस दिन लगने वाला चंद्र ग्रहण कई मायनों में खास है। ज्योतिष के मुताबिक, इस बार चंद्र ग्रहण मकर राशि पर लग रहा है। इस बार ग्रहण का असर शनि और चंद्रमा दोनों पर रहने वाला है।

7. क्या है चंद्रग्रहण लगने का कारण?

चंद्रग्रहण तब लगता है जब चंद्रमा पृथ्वी की छाया से गुजरती है। पृथ्वी की छाया चंद्रमा के हिस्से को कवर करती है, तो चंद्रग्रहण लगता है। जब चंद्रमा का पूरा हिस्सा उस छाया के अंदर कवर हो जाता है तो पूर्ण चंद्रग्रहण लगता है और आंशिक रूप से कवर होता है उसे अर्द्ध चंद्रग्रहण कहते हैं। छाया के अंदर कवर होने से चंद्रमा उस वक्त अंधेरामय लगता है।

ऐसे देख सकते हैं चन्द्रग्रहण

चंद्रग्रहण देखने के लिए बड़ी-बड़ी इमारतों और लाइट्स से दूर खुले इलाके या छत पर जाएं। इसे देखने के लिए टेलिस्कोप की जरूरत नहीं है लेकिन अगर आप टेलिस्कोप से देख लें तो चांद और भी खूबसूरत और निराला नजर आएगा। नंगी आंखों से चंद्रग्रहण देखने पर आपकी आंखों को कोई नुकसान नहीं है।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: ब्लड मून 2018: 27 जुलाई को लग रहा है 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, काउंटडाउन शुरू