Live TV
GO
Hindi News भारत राष्ट्रीय राहुल गांधी के राफेल हमले का...

राहुल गांधी के राफेल हमले का बीजेपी ने ट्वीट कर दिया जवाब, गिनाए 10 झूठ

राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष के तेज होते हमलों के जवाब में बीजेपी भी अब फ्रंट फुट पर आ गई है। राहुल के आरोपों के जवाब में आज बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 'लायर राहुल' हैशटैग के साथ 10 ट्वीट किए।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 09 Feb 2019, 13:43:38 IST

राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्‍यक्ष के तेज होते हमलों के जवाब में बीजेपी भी अब फ्रंट फुट पर आ गई है। राहुल के आरोपों के जवाब में आज बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 'लायर राहुल' हैशटैग के साथ 10 ट्वीट किए। जिसमें बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष राफेल पर बोले गए झूठ गिनाए हैं। शुक्रवार को ही एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के आधार पर कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी पर राफेल में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था। एक ट्वीट में तो बीजेपी ने राहुल को झूठ बोलने के लिए नोबेल पुरस्कार से नवाज़ने की बात भी कह दी है। आइए देखते हैं बीजेपी ने राहुल ट्वीट कर राहुल पर कैसे हमला बोला। 

झूठ 1: #लायरराहुल ने फ्रेंच मीडिया में आई रिपोर्ट को तोड़ मरोड़ कर दावा किया कि डेसॉल्‍ट पर भारत के साथ डील के लिए रिलायंस को ऑफसेट पार्टनर बनाने का दबाव डाला गया। 

तथ्य: सुप्रीम कोर्ट और साथ ही डेसॉल्‍ट के सीईओ भी यह कह चुके हैं कि भारत सरकार की तरफ से ऑफसेट पार्टनर चुनने के लिए कोई दबाव नहीं डाला गया। 

झूठ 2: राहुल ने भ्रामक प्रचार किया कि डील के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने अनियमितता दर्ज की। न्यायिक विषय पर ऐसा भ्रामक प्रचार निम्नतम है। 

तथ्य: सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस के इशारे पर उसकी कठपु‍तलियों द्वारा दायर की गई याचिका को रद्द कर दिया और कहा कि इस डील में कोई अनियमितता नहीं हुई है। 

झूठ 3: #लायरराहुल का दावा है कि राफेल डील पर असहमति दर्ज करने के लिए रक्षा मंत्रालय ने एक वरिष्ठ अधिकारी को सजा दी थी। 

तथ्य: राहुल के झूठ का पर्दाफाश हो गया जब खुद अधिकारी ने मीडिया के सामने आकर ऐसी किसी सजा से इनकार किया। 

झूठ 4: #लायर राहुल का कहना है कि फ्रांस के पूर्व राष्‍ट्रपति होलांद ने पीएम मोदी को चोर कहा था और भारत सरकार ने डील में रिलायंस को ऑफसेट पार्टनर बनाने के लिए कहा था। 

तथ्य: होलांद ने खुद ही ऐसे किसी भी आरोप से इनकार किया है और फ्रेंच सरकार ने इस संबंध में आधिकारिक बयान भी जारी किया है। 

झूठ 5: #लायरराहुल ने तो संसद में भी झूठ बोला और कहा कि फ्रांस के राष्‍ट्रपति मैक्रों से वह व्यक्तिगत तौर पर मिले। मैक्रों ने उन्हें बताया कि राफेल डील में कोई गोपनीयता शर्तें नहीं हैं। 

तथ्य: फ्रेंच सरकार ने इस झूठ के खिलाफ भी बयान जारी किया था और कहा कि गोपनीय सूचनाओं को साझा नहीं करने का समझौता दोनों पार्टियों में हुआ है। 

झूठ 6: #लायरराहुल ने यूपीए के दौरान हुई डील में एयरक्राफ्ट की कीमत अलग-अलग बताई 

• संसद में, वह 520 करोड़ बोले 
• कर्नाटक में, वह 526 करोड़ बोले 
• राजस्थान में, उन्होंने 540 करोड़ बताया 
• दिल्ली में, उन्होंने 700 करोड़ बताया 

तथ्य: झूठ बोलने का नोबेल पुरस्कार मिलना चाहिए।

झूठ 7: #लायरराहुल ने दावा किया कि मोदी सरकार की प्रक्रिया सेना के अधिकार और मनोबल को गिरानेवाली थी। 

तथ्य: सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा, हमें इस प्रक्रिया में किसी तरह की अनियमितता का संदेह नहीं है और हम संतुष्ट हैं।

झूठ 8: #लायरराहुल ने कहा कि यूपीए में इस डील को 526/520/540 (एक जगह, एक दाम) तक नेगोशिएट किया, वहीं एनडीए ने इस डील को 1,600 करोड़ रुपये में तय किया। 

तथ्य: वे सेब और नारंगी के बीच तुलना करना चाहते हैं। एनडीए सरकार ने प्राइस नेगोशिएशन बेहतर तरीके से किया और तय की गई कीमत पूरे परिचालन पैकेज के साथ राफेल विमान की है। 

झूठ 9: राहुल ने कहा 36 एयरक्राफ्ट निर्माण का उद्देश्य राजनीतिक भागीदारी है और यह एयरफोर्स को नुकसान पहुंचाने वाली है। 

तथ्य: माननीय सुप्रीम कोर्ट ने कहा, फैसला सेना के आधुनिकीकरण की दिशा को ध्यान में रखकर लिया गया है और उनकी क्षमता को मजबूत बनाने वाला है और वायु सेना भी इससे खुश है। 

झूठ 10: कल #लायरराहुल को अपने जुर्म का साथी द हिंदू अखबार मिल गया। काटछांट की गई फोटो दिखाकर उन्‍होंने फिर झूठ बोला

तथ्‍य: हम हमेशा से ही जानते हैं कि कांग्रेसी फॉटोशॉप करने में माहिर हैं। लेकिन कल वे समझ गए होंगे। 'सत्‍यमेव जयते'। 

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन