Live TV
GO
  1. Home
  2. Gallery
  3. Must watch
  4. आज की बड़ी खबरें 3 अगस्त...
 

सावन के पवित्र महीने में वृद्ध माता-पिता को अपने कंधों पर ले जाते कांवड़िए। कांवड़ यात्रा 28 जुलाई से शुरू हो चुकी है। ऐसा माना जाता है सावन के महीने में सभी देवता आराम करने निद्रा में चले जाते हैं। उस समय सभी देवताओं का कार्य भगवान शिव करते है। भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए भक्तों द्वारा कई तरीके अपनाए जाते हैं। इन्हीं तरीकों में से एक है कांवड़ यात्रा। सावन के महीने में शिव भक्त केसरिया कपड़े पहनकर हरिद्वार से गंगाजल लेकर आते है और भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए उसे शिवलिंग पर चढ़ाते है।