Live TV
GO
  1. Home
  2. Gallery
  3. Celebrity pictures
  4. इन लड़कियों की Innovative सोच ने...
 

बार्कले रिसर्च यूनिवर्सिटी से बायोइंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुकी सुरभि सरना ने 2010 में गर्भाशय संबंधी इलाज को आसान बनाने के लिए एनविजन की शुरूआत की है। 13 साल की उम्र में सुरभि को गर्भाशय में अल्सर हुआ था। लेकिन डॉक्टर आश्वस्त नहीं थे कि यह अल्सर है या कैंसर। इसके बाद सुरभि ने एक ऐसा बनाने की सोची जिससे पहली जांच में ही पता चल जाए कि क्या रोग है।