Live TV
GO
  1. Home
  2. भारत में स्टार्ट अप्स को प्रोत्साहन...

भारत में स्टार्ट अप्स को प्रोत्साहन के लिए सात करार

सान जोस: भारत में स्टार्टअप कंपनियों को प्रोत्साहन के लिए भारत और अमेरिका के विभिन्न संगठनों के बीच सात सहमति ज्ञापन MOU पर दस्तखत किए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भारत-अमेरिका स्टार्ट-अप कनेक्ट 2015

Agency
Agency 28 Sep 2015, 18:02:37 IST

सान जोस: भारत में स्टार्टअप कंपनियों को प्रोत्साहन के लिए भारत और अमेरिका के विभिन्न संगठनों के बीच सात सहमति ज्ञापन MOU पर दस्तखत किए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भारत-अमेरिका स्टार्ट-अप कनेक्ट 2015 में शामिल होने के दौरान इन MOU पर दस्तखत किए गए। पहला MOU सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर प्लेटफार्म और कैलिफोर्निया इंस्टिट्यूट फॉर क्वान्टेटिव बायोसाइंसेज के बीच इंडो-यूएस लाइफ साइंस सिस्टर इनोवेशन हब के विकास के लिए है, जो विज्ञान आधारित उद्यमशीलता, अनुसंधान, शिक्षा और कारोबार को प्रोत्साहन देगा। इसके लिए दोनों द्वारा एक-दूसरे के पारिस्थितिकी तंत्र का इस्तेमाल किया जाएगा।

इसके अलावा जैवप्रौद्योगिकी विभाग और प्रकाश लैब, स्टैंफोर्ड विश्वविद्यालय ने फोल्डस्कोप पर एक और एमओयू पर दस्तखत किए हैं। यह एक मितव्ययी विज्ञान अनुसंधान है और एक भारतीय व्यक्ति की प्रयोगशाला की देन है। इस प्रयोगशाला में ज्यादातर भारतीय ही काम करते हैं। यह प्रयोगशाला जैव प्रौद्योगिकी विभाग के साथ मिलकर काम करेगी। एक अन्य करार नास्कॉम तथा इंडस आंत्रिप्रिन्योर्स के बीच हुआ है। अन्य करार आईआईएम अहमदाबाद के सेंटर फॉर इनोवेशन एंड आंत्रिप्रिन्योरशिप CII और कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय लेस्टर सेंटर फॉर आंत्रिप्रिन्योरशिप आफ हास बिजनेस स्कूल ने भी एक और करार पर दस्तखत किए हैं। CII ने लॉस एंजिल्स क्लीनटेक इन्कुबेटर के बीच भी करार हुआ है। इसके तहत CII को NGIN सदस्यता का लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़ें-

बराक ओबामा से चर्चा के लिए PM मोदी न्यूयॉर्क रवाना

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें सेक्‍शन
Web Title: भारत में स्टार्ट अप्स को प्रोत्साहन के लिए सात करार