Live TV
GO
  1. Home
  2. SEBI - FMC विलय एक ऐतिहासिक...

SEBI - FMC विलय एक ऐतिहासिक घटना, सुधारों की होगी शुरूआत

नई दिल्ली: वायदा बाजार आयोग का पूंजी बाजार नियामक SEBI के साथ विलय का स्वागत करते हुए जिंस बाजार तथा ब्रोकरों ने इसे ऐतिहासिक घटना करार दिया और कहा कि इस कदम से सुधारों की

Agency
Agency 29 Sep 2015, 11:02:38 IST

नई दिल्ली: वायदा बाजार आयोग का पूंजी बाजार नियामक SEBI के साथ विलय का स्वागत करते हुए जिंस बाजार तथा ब्रोकरों ने इसे ऐतिहासिक घटना करार दिया और कहा कि इस कदम से सुधारों की अगली कड़ी शुरू होगी तथा क्षेत्र में ज्यादा पारदर्शिता आएगी और वृद्धि होगी। जिंस बाजार नियामक वायदा बाजार आयोग FMC का आज आज पूंजी बाजार नियामक SEBI के साथ विलय हुआ। यह कदम जिंस डेरिवेटिव्स खंड में गड़बडि़यों को रोकने में नियामकीय मसौदे को मजबूत करने के साथ-साथ उसे दुरूस्त करेगा।

देश के सबसे बड़े जिंस बाजार एमएसीएक्स के संयुक्त प्रबंध निदेशक पी के सिंघल ने एक बयान में कहा, हमें कोई संदेह नहीं है कि इस विलय से जिंस डेरिवेटिव बाजार में और पारदर्शिता आएगी और वृद्धि का मार्ग प्रशस्त होगा। एनसीडीईएक्स के प्रबंध निदेशक तथा मुख्य कार्यपालक अधिकारी समीर शाह ने एक बयान में कहा, जिंस बाजार का प्रशासन अब विश्वसनीय नियामक के हाथ में है जिसके पास जटिल बाजार स्थितियों के प्रबंधन का अनुभव है। उन्होंने कहा कि इससे निवेशकों का विश्वास बढ़ाने में मदद मिलेगी और सुधारों की नई कड़ी की शुरूआत होगी।

ब्रोकर कंपनियों ने इसी प्रकार की राय जाहिर करते हुए इसे नियामकीय ढांचे में एक उत्साहजनक क्षण करार दिया। जियोफिन कामट्रेड के सीईओ और प्रबंध निदेशक गिरीश देव ने कहा कि इससे जिंस डेरिवेटिव्स बाजार के पुनरूद्धार की न केवल उम्मीद बंधी है बल्कि अगले कुछ साल में और प्रतिभागी बाजार में आकर्षित होंगे।

यह भी पढ़ें-

कंपनी कानून समिति को मिले 2,000 से अधिक सुझाव

SEBI ने PACL पर लगाया 7,269 करोड़ रुपए का जुर्माना

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें सेक्‍शन
Web Title: SEBI - FMC विलय एक ऐतिहासिक घटना, सुधारों की होगी शुरूआत